Saturday, March 13, 2010

मैं साँसे भी लुटा सकता हूँ

मैं साँसे भी लुटा सकता हूँ उसके लिए मगर
वो मेरे हर वादे को सरकारी समझती है
--राहत इंदोरी

No comments:

Post a Comment